Thursday, January 10, 2019

god images wallpapers

उस दिन हमारी सारी परेशानियाँ ख़त्म हो जायेगी, 
जिस दिन हमें यकीन हो जाएगा की हमारा सारा काम ईश्वर की मर्जी से होता है !!
#हरे कृष्णा



सिर्फ पूजा-हवन से भगवान नहीं मिला करते, 
भगवान की प्राप्ति के लिए मन में दयाभाव व इंसानों के प्रति करूणा, 
विनम्रता भी होनी चाहिए! 
#राधे राधे












god images hd 3d download

जो दौड़ दौड़ कर भी नहीं मिलता “वही संसार है” जो बिना दौड़े मिल जाता है “वही परमात्मा हैं”
#राधे राधे


दूसरों की परेशानी का आनंद ना लें, कहीं भगवान आपको वह गिफ्ट ना कर दें, क्‍योंकि भगवान वही देता हैं जिसमें आपको आनंद मिलता हैं। 
#हरे कृष्णा


Monday, January 7, 2019

free download ganesh image

पग में फूल खिले, हर ख़ुशी आपको मिले, कभी न हो दुखों का सामना, 
यही मेरी गणेश चतुर्थी की शुभकामना।
#गणपति बप्पा मोरया


गणेश चतुर्थी के पवन पर्व पर विघ्नहर्ता को आओ सब करे नमन
हर कोई हो स्नेह से बंधा, मन की भक्ति कर दे अर्पण…।।।।।।
#गणपति बप्पा मोरया





Ganesh wallpapers

गणेश जी आपको नूर दें, खुशियां आपको संपूर्ण दें
आप जाएं गणेश जी के दर्शन को और गणेश जी
आपको सुख संपत्ति भरपूर दें.
#गणपति बप्पा मोरया


खुशियों की सौगात आए, गणेश जी आपके पास आएं.
आपके जीवन मे आए सुख संपत्ति की बहार, गणेश जी
अपने साथ लाए धन संपत्ति अपार.
#गणपति बप्पा मोरया




Thursday, January 3, 2019

Lord ganesha Mantra in hindi

Shri Ganesh प्रथम पूज्यनीय विघ्नहर्ता  सभी के प्रिय  माँ पारवती और महादेव के पुत्र को कौन नहीं जानता । गणेश मंत्र के उच्चारण से दीनों के दुःख पल भर में समाप्त हो जाते हैं।जो शरीर से विकलांग है वह फिर से उन्नत हो जाता है। बाँझ स्त्रियों को पुत्र/ पुत्री रत्न की प्राप्ति हो जाती है। गणेश जी नाम जाप से ही रिद्धि और सिद्धि आपके साथ निवास करने लगती हैं  हर जगह शुभता का प्रवेश होने लगता है। मनुष्य को अपने हर कार्य में उन्नति होने से लाभ ही लाभ प्राप्त होता है। गणेश जी को वरदान प्राप्त है की जब कही भी कोई भी धार्मिक अनुष्ठान किया जाएगा |

 सर्वप्रथम गणेश जी की ही पूजा होगी तभी वह अनुष्ठान प्रारम्भ होगा। और सम्पूर्ण रूप से शुभता देने वाला होगा।श्री गणेश मंत्र जिनका जाप करने पाप मुक्त हो जाते हैं। दीन हीन लोग धनवान और हर एक क्षेत्र में विजयी होते हैं। गणेश जी के मंत्रों का जाप करने से शुभता आती है। आपके सारे बिगड़े काम बनने लगते हैं।हिन्दू धर्म ग्रंथों के अनुसार श्री गणेश मंत्र का पाठ ११ दिनों तक करने से भगवान् गणेश जी प्रसन्न हो जाते हैं। जो सबसे शक्तिशाली माध्यम है |

गणपति जी को खुश करने का। सुबह सुबह जल्दी उठकर स्नान करने के बाद भक्त को गणेश जी की मूर्ति के सामने बैठ कर गणेश मंत्र का पाठ करना चाहिए। मंत्र का पाठ करने से पहले भली भाँती मंत्र को समझकर फिर उस मंत्र का आत्मविवेचन कर पाठ करने से बहुत ही लाभ होता है।निरंतर Ganesh mantra का जाप करने से मन को शान्ति मिलती है। सारी बुराईयां दूर होने लगती हैं। गणेश जी के मंत्र जाप से मन स्वस्थ और मनुष्य धन धान्य से परिपूर्ण होने लगता है। गणेश जी के मंत्र का जाप साधक को सुख समृद्धि तथा शुभ और लाभ प्रदान करता है।

Vighnaharta Ganesha


भगवान् गणेश रिद्धि सिद्धि के दाता हैं जो हर विघ्नों को हरने वाले ऐसा माना जाता है कि भगवान गणेश का जन्म मध्याह्न काल के दौरान हुआ था इसीलिए मध्याह्न के समय को Ganesh Chaturthi Poojan के लिये ज्यादा उपयुक्त माना जाता है। गणेश जी भगवान् शिव और माता पार्वती के पुत्र है । हिन्दू धर्म किसी भी पूजा से पहले गणेश जी का आवाहन करना बहुत जरूरी होता है।



उनकी पूजा किये बिना किसी और भगवान की पूजा नहीं हो सकती ।नहीं तो पूजा अधूरी मानी जाती है.इसलिए आप भी रोज पूजा करते समय Ganesh Chalisa  का पाठ जरूर करे । ये भगवान गणेश की कृपा पाने का एक बहुत ही सरल और आसान तरीका का है । और इससे आपके जीवन में सुख का आगमन होगा ।

मंगल विधान और विघ्नों के नाश के लिए Ganesh mantra का जाप करें।
गणपतिर्विघ्नराजो लम्बतुण्डो गजाननः।द्वैमातुरश्च हेरम्ब एकदन्तो गणाधिपः॥विनायकश्चारुकर्णः पशुपालो भवात्मजः।द्वादशैतानि नामानि प्रातरुत्थाय यः पठेत्॥विश्वं तस्य भवेद्वश्यं न च विघ्नं भवेत् क्वचित्।

पूजा के दौरान गणेश जी के निम्न मंत्रों का प्रयोग करना चाहिए। इस मंत्र के द्वारा भगवान गणेश को दीप दर्शन कराना चाहिए
साज्यं च वर्तिसंयुक्तं वह्निना योजितं मया ।दीपं गृहाण देवेश त्रैलोक्यतिमिरापहम् ।भक्त्या दीपं प्रयच्छामि देवाय परमात्मने ।त्राहि मां निरयाद् घोरद्दीपज्योत 

Wednesday, January 2, 2019

Shiva (Lord Shiv) Mantra

Shiva Mantra is considered most effective in acquisition of salvation and destruction of fear of death. Shiva Mantra has the power to turn negative thoughts in to positive.Shiva Mantra is considered most effective in acquisition of salvation and destruction of fear of death. Shiva Mantra has the power to turn negative thoughts in to positive.

Shiva Mantra in hindi  invokes the Shiva Tattva to immobilize, annihilate and eliminate the enemies from your path. Shiva Mantra is also called the 'Raksha Kavach Mantra' as it protects one from dangers, threats and enemies. Chanting of Shiva mantra on Chaturdashi is considered very effective and auspicious. Regular chanting of Shiva mantra attracts success and prosperity in all walks of life.




Benefits of Shiva Mantra

Shiva Mantra is mainly used to dispel fear; particularly the fear of change. Shiva mantra is chanted for the protection against diseases, sorrows, fears etc. Recitation of this Mantra gives success and Siddhis. Shiva Mantra has the power to boost a person's inner potential and strength. Shiva Mantra helps to cleanse the body, mind and soul of all the stress, rejection, failure, depression and other negative forces that we face in our daily lives. Shiva Mantra is to be chanted when one feels weak and drained of energy; both mental as well as physical. Shiva Mantra Japa is also an astrological remedy to ward of the negative influences of the Maraka planet in the birth horoscope.

Tuesday, June 19, 2018

जानिये क्या है नजर उतरने के अचूक उपाय और मंत्र

इस लेख में, Nazar utarne  के लिए आसान कदम उठाए जाते हैं, जिससे आप किसी भी प्रकार की नज़र से बच सकते हैं। जब किसी व्यक्ति पर किसी पर Buri Najar  आती है, तो उसे परेशानियों की समस्या हो जाती है। आंखों के दोषों के कारण, जानबूझकर मनुष्य के जीवन में समस्याएं उत्पन्न होती हैं। इस समय के दौरान उनके काम परेशान हो गए। हर क्षेत्र में, यह निराशाजनक हो जाती है, इसलिए बुरी आंख से बचने के लिए, लोग उपाय करने के लिए मंत्र का जप करते हैं, नज़र और जाल के जाल को देखते हैं। इसके अलावा, लोग नजर  के दोषों को रोकने के कई तरीकों का प्रयास करते हैं। यह एक Buri najar के बारे में कहा जाता है कि जब कोई व्यक्ति अपने काम में सफल होता है, तो उसके कुछ परिवेश उसे जलते हैं। आमतौर पर यह माना जाता है कि Buri najar के कारण व्यक्ति की सकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है। वह जो कुछ भी करता है, उसे नुकसान उठाना पड़ता है। इसी प्रकार, यदि कोई घर देखा जाता है, तो उस घर में अशांति का वातावरण फैल रहा है। घर की खुशी खरपतवार में बदल जाती है। लोग किसी के बढ़ते घर को देख कर घर से ईर्ष्या शुरू करते हैं, यही कारण है कि लोग अपने घर को Buri Najar  से बचाने के लिए बहुत सारी चीज़ें बचाते हैं। Buri Najar Utarne Ke Upay  को हटाने से पहले Najar Ke Lakshano को जानना जरूरी है।

बुरी नजर के लक्षण- Buri Najar  ke Lakshan 



  • अगर घर में Najar  लग जाती  है, तो घर में दुःख-दर्द   होता है। घर में चोरी की एक घटना है, और उस घर में अशांति का वातावरण बना हुआ है। परिवार के सदस्य किसी प्रकार की बीमारी से पीड़ित होना शुरू करते हैं। उस घर में आर्द्रता



  • यदि  किसी के Vyapar Me Nazar  लग जाती है, तो व्यापार बंद हो जाता है। व्यवसाय में, यह लाभ के बजाय एक नुकसान है



  • अगर किसी व्यक्ति को Nazar  लग  जाती है, तो वह रोगी या कुछ बुरी कंपनी में फंस जाता है, जो समाज में उसकी प्रतिष्ठा समाप्त करता है या उसका काम खराब हो जाता है।



  • अगर किसी बच्चे को Buri Nazar लग जाती  है, तो वह बीमार हो जाता है या वह बिना बात किए जोर से रोता है


नजर उतरने के उपाय - Najar Utarne Ke Upay

निम्नलिखित उपायों  का पालन करके आप अपना Vayapar Me Safalta ke upay सकते हैं:


  • पंचमुखी के हनुमान जी के लॉकेट को पहनो 
  • हमेशा हनुमान चालीसा और बाजारंग बाण्ड का रोज जाप करो ।
  • हनुमान जी के मंदिर पर जाएं और माथे पर सिंदूर लगाए ।
  • यदि कोई व्यक्ति Buri Najar Se  प्रभावित होता है, तो उसे भैरो बाबा के मंदिर से काले धागे पहनना चाहिए। इससे उस पर लगी Buri Najar Utar Jaayegi जायेगी ।
  • यदि बार-बार धन की हानि होती है, तो लाल कपड़े  दो कोडिया बांध क़र इसे सुरक्षित रखें।
  • एक रोटी बनाओ और इसे केवल एक तरफ सेंकना। अब पक्के  हिस्से पर तेल लागए और इसमें लाल मिर्च और नमक  डाल दें। अब  Nazar Dosh से पीड़ित व्यक्ति पर  इसे सात बार वार  दें और उसे चुपचाप एक चोराहे  पर रखें।

नज़र उतारने का मंत्र- Nazar Utarne Ka Mantra


ॐ नमो सत्य नाम आदेश गुरु को, 
ॐ नमो नज़र जहाँ पर पीर ना जानी 
बोले छल सौं अमृतवानी, 
कहो नज़र कहाँ ते आई 
यहाँ की ठौर तोही कौन बताई।

कौन जात तेरो कहाँ धाम,
किसकी बेटी, का तेरो नाम, 
कहाँ से उड़ी, कहाँ को जाया,
अबहि बसकर ले तेरी माया।

मेरी बात सुनो चित्त लाए,
जैसा होय सुनाऊं लाय,
मेरी भक्ति, गुरु की शक्ति,
फुरो मंत्र ईश्वरी वाचा।

उपरोक्त मंत्र को पढ़ते हुए Buri Nazar से पीड़ित व्यक्ति को मोर की पंख से ऊपर से नीचे तक उसे झाड़ें।